शंकराचार्य देवतीर्थ ने किया नेत्र शिविर का समापन


श्रीमहंत राजेन्द्र दास ने जताया आभार, हजारों ने लिया लाभ

हरिद्वार।
महावीर सेवा सदन आभा बागरोडिया चैरिटेबल ट्रस्ट कलकत्ता , श्री आद्य शंकराचार्य धर्मोत्थान संसद के संयुक्त तत्वाधान में बैरागी कैम्प में स्थित निर्मोही आणि अखाड$े में चल रहे दो दिवसीय नेत्र परीक्षण एवं चश्मा वितरण शिविर का समापन हो गया।
गोवर्धन पुरी शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देव तीर्थ महाराज के सानिध्य आेर निर्मोही अणि के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत राजेन्द्र दास की देख रेख में गुरुवार को दो दिवसीय नेत्र परीक्षण एवं चश्मा वितरण का शिविर बैरागी कैम्प के निर्मोही अखाड$े में आयोजित हुआ। जिसका शुक्रवार शाम को समापन हुआ। दो दिवसीय इस नेत्र परीक्षण एवं चश्मा वितरण शिविर में कुम्भ में आये साधु संतों, श्रद्धालुआें आेर पुलिस कर्मियों सहित प्रशासन के लोगों ने भारी संख्या में लाभ उठाया। लगभग 10 लोगो को चश्मा वितरण किया गया। कार्यक्रम डाक्टर सौरव साव के नेतृत्व में कलकत्ता से आये 1सदस्यीय विशेषज्ञों एवं स्थानीय स्वयंसेवको द्वारा सम्पन्न हुआ। शिविर के समापन के अवसर पर बोलते हुए शंकराचार्य स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ जो कुम्भ मेले में इन दिनों हरिद्वार प्रवास है ने कहा कि कुम्भ पर्व धार्मिक अनुष्ठानो आेर नारायण सेवा का ही पर्व है। जिसमे जहा एक आेर धार्मिक अनुष्ठान किये जाते है तो वही सामाजिक संस्थाएं श्रद्धालुआें के स्वास्थ्य के लिए शिविरों का आयोजन भी करते है। इसी क्रम में कलकत्ता के प्रसिद्ध उद्योगपति विनोद बागरोदिया के अथक प्रयासों से आभा बागरोदिया चैरिटेबल ट्रस्ट देश भर में सेवाएं उपलब्ध करा रहा है। ट्रस्ट ने हरिद्वार कुम्भ में भी अपना योगदान देते हुए नेत्र शिविर का आयोजन किया जिसके किये वे साधु वाद के पात्र है। इस अवसर पर शंकराचार्य ने कुम्भ में आये साधु संतों व श्रद्धालुआें से कोविड 19 के प्रोटोकल का पालन करते हुए कुम्भ मेला करने की सलाह भी दी।

SHARE ON:

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: