सभी जगह शांति है और स्थिति नियंत्रण में है अफवाहों पर ध्यान न दें

दिल्ली में अब अफवाहोंं के उपद्रव से माहौल तनावपूर्ण, 46 पहुंचा मौत का आंकड़ा
सभी जगह शांति है और स्थिति नियंत्रण में है, अफवाहों पर ध्यान न दें, सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है: मंदीप सिंह रंधावा, प्रवक्ता, दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली । उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में रविवार को शांति रही, लेकिन तनाव अब भी बरकरार है। पुलिस बल की भारी तैनाती के बीच धीरे धीरे जनजीवन पटरी पर लौट रहा है। वहीं, पुलिस ने रविवार को तीन अलग अलग जगहों से चार और शव बरामद किए। इसके साथ ही हिंसा में मरने वालों की संख्या 46 तक पहुंच गई है। दूसरी ओर दिल्ली में रविवार शाम को कुछ जगहों पर हिंसा की अफवाह फैलने से माहौल तनावपूर्ण हो गया। आग की तरह फैली अफवाह के कारण कुछ जगहों पर बाजार बंद हो गए। कई इलाकों में लोगों ने खुद को घरों में बंद कर लिया, तो कहीं-कहीं लोग लाठी-डंडे लेकर गलियों में पहरा देने लगे। कुछ देर के लिए मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए। इससे लोगों को लगा कि अफवाह सही है। लोग इसकी पुष्टि के लिए मीडिया हाउस में फोन करने लगे। इस बीच, दिल्ली पुलिस ने कहा कि हालात पूरी तरह नियंत्रण में है और लोग अफवाहों पर ध्यान न दें। इसके बाद लोगों ने राहत की सांस ली। रविवार शाम सबसे पहले अफवाह फैली कि ख्याला, राजौरी गार्डन में हिंसा फैल गई है। कुछ देर बाद ही तिलक नगर, राजौरी गार्डन, रघुवीर नगर, उत्तम नगर, डाबड़ी, सीतापुरी, सागरपुर व मंगोलपुरी में हिंसा होने की खबर फैली। तिलक नगर मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया। इससे लोगों को अफवाह पर यकीन हो गया। बाजार बंद हो गए। लोग दुकानें बंद कर घर चले गए। कुछ लोगों ने तो खुद को दुकानों के अंदर बंद कर लिया। उत्तम नगर में लोग गलियों में पहरा देने लगे। कालकाजी, वसंतकुंज, जैतपुर, रोहिणी, बदरपुर व तुगलकाबाद में भी हिंसा होने की अफवाह फैल गई। बदरपुर व तुगलकाबाद मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिए गए। हालांकि बाद में सभी मेट्रो स्टेशन खोल दिए गए। दरअसल राजौरी गार्डन पुलिस जुआरियों को पकड़ने गई थी। पुलिस जुआरियों के पीछे भाग रही थी कि लोगों को लगा कि हिंसा फैल गई है और पुलिस आरोपियों को पकड़ने भाग रही है। धीरे-धीरे ये अफवाह पूरी दिल्ली में फैल गई। इस दौरान जैतपुर में चोरी के आरोप में एक युवक की पिटाई के कारण हिंसा की अफवाह को बल मिला। जिन इलाकों में हिंसा की अफवाह फैली थी, वहां पुलिस गश्त बढ़ा दी गई। पुलिस अधिकारी इलाके में पहुंच कर लोगों को समझाने लगे कि पूरी दिल्ली में शांति है। लोग अपनी दुकानें खोल लें और नियमित रूप से काम करें।

SHARE ON:

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: